Songs of Shailendra::
archives

Parakh

This tag is associated with 5 posts

१९६० – परख – मेरे मन के दिये | 1960 – Parakh – mere man ke diye

मेरे मन के दिये, मेरे मन के दिये यूँही घुट-घुटके जल तू, मेरे लाडले, ओ मेरे लाडले ख़ाक हो जाएँ हम प्यार के नाम पर प्यार की राह में रौशनी तो रहे मेरे मन के दिये … आग के फूल आँचल में डाले हुए कबसे जलता है वो आसमाँ देख ले मेरे मन के दिये … Continue reading

१९६० – परख – ये बँसी क्यूँ गाए | 1960 – Parakh – ye bansi kyun gaye

ये बंसी क्यूँ गाए, मुझे क्यूँ सताए ये क्या धुन सुनाए, दूर न जाने काहे मुझको बुलाए, हाय बंसी क्यूँ गाए ये बंसी नदिया के तीर मोहे देखके अकेली मुझको सिखाने आई प्रीत-पहेली जिया उलझाए, मोहे ललचाए, कित जाऊँ, हाय बंसी क्यूँ गाए … हो बंसी बस में ना दिल ना ये नैन हमारे बचपन … Continue reading

१९६० – परख – क्या हवा चली बाबा रुत बदली | 1960 – Parakh – kya hawa chali baba rut badli

क्या हवा चली, बाबा, रुत बदली क्या हवा चली, रे बाबा, रुत बदली शोर है गली-गली, सौ-सौ चूहे खायके बिल्ली हज को चली क्या हवा चली … पहले लोग मर रहे थे भूख से अभाव से अब कहीं ये मर न जाएँ अपनी खाव-खाव से मीठी बात कडवी लगे, गालियाँ भली क्या हवा चली … … Continue reading

१९६० – परख – मिला है किसीका झुमका | 1960 – Parakh – mila hai kisi ka jhumka

Film Parakh Music Director Salil Chowdhury Year 1960 Singer(s) Lata Audio Video On Screen Sadhana मिला है किसीका झुमका ठण्डे-ठण्डे हरे-हरे नीम तले सुनो क्या कहता है झुमका ठण्डे-ठण्डे हरे-हरे नीम तले मिला है किसीका झुमका प्यार का हिन्डोला यहाँ झूल गए नैना सपने जो देखे, मुझे भूल गए नैना हाय रे बेचारा झुमका ठण्डे-ठण्डे … Continue reading

१९६० – परख – ओ सजना, बरखा बहार आई | 1960 – Parakh – o sajna barkha bahar aai

Film Parakh Music Director Salil Chowdhury Year 1960 Singer(s) Lata Audio Video On Screen Sadhana ओ सजना ओ सजना, बरखा बहार आई रस की फुहार लाई अँखियों में प्यार लाई ओ सजना तुमको पुकारे मेरे मन का पपीहरा मीठी-मीठी अग्नि में जले मोरा जियरा ओ सजना … ऐसी रिमझिम में ओ सजन प्यासे-प्यासे मेरे नयन, … Continue reading