Songs of Shailendra::
archives

Balraj Sahni

This tag is associated with 6 posts

१९५९ – हीरा मोती – नाच रे धरती के प्यारे | 1959 – Heera Moti – nach re dharti ke pyare

नाच रे धरती के प्यारे, तेरे अरमानों की दुनिया समने है तेरे आज तेरे घर होने को हैं फिर ख़ुशियों के फेरे धान की बाली, ये हरियाली कहती है तुझसे रे जैसे-तैसे कट गई ग़म की रात काली गली-गली शोर है, आएगी दीवाली कड़ी मेहनत की फ़सल, अपने धीरज का ये फल, मीठा लागे रे … Continue reading

१९५९ – छोटी बहन – भैय्या मेरे राखी के बंधन को निभाना | 1959 – Chhoti Bahen – bhaiya mere rakhi ke bandhan ko nibhana

भैय्या मेरे, राखी के बँधन को निभाना भैय्या मेरे, छोटी बहन को ना भुलाना देखो ये नाता निभाना, निभाना भैय्या मेरे, … ये दिन ये त्यौहार ख़ुशीका, पावन जैसे नीर नदीका भाई के उजले माथे पे बहन लगाए मंगल टीका झूमे ये सावन सुहाना, सुहाना भैय्या मेरे, राखी के बँधन को निभाना … बाँधके हमने … Continue reading

१९५९ – छोटी बहन – ये कैसा न्याय है तेरा | 1959 – Chhoti Bahen – ye kaisa nyay hai tera

ये कैसा न्याय तेरा, दीपक तले अँधेरा किसीको दी निगाह, राह छीन ली किसीको राह दी, निगाह छीन ली ये कैसा न्याय तेरा, दीपक तले अँधेरा तक़्दीर हमसे रूठी, अपने हुए पराए जाने कहाँ चले हैं, जाने कहाँ से आए चारों तरफ़ अँधेरा, बरबादियों ने घेरा किसीको दी निगाह, राह छीन ली किसीको राह दी, … Continue reading

१९६० – अनुराधा – कैसे दिन बीते कैसे बीतीं रतियाँ | 1960 – Anuradha – kaise din beete kaise beeti ratiyan

कैसे दिन बीते, कैसे बीतीं रतियाँ पिया जाने ना नेहा लगाके मैं पछताई सारी-सारी रैना निंदिया ना आई जानके देखो मेरे जी की बतियाँ पिया जाने ना हाय, कैसे दिन बीते … रुत मतवाली आके चली जाए मन ही मेरे मन की रही जाए खिलने को तरसे नन्ही-नन्ही कलियाँ पिया जाने ना हाय, कैसे दिन … Continue reading

१९५५ – सीमा – तू प्यार का सागर है | 1955 – Seema – tu pyar ka sagar hai

Film Seema Music Director Shankar-Jaikishan Year 1955 Singer(s) Manna Dey, Chorus Audio Video On Screen Nutan, Balraj Sahni तू प्यार का सागर है, तेरी एक बूँद के प्यासे हम लौटा जो दिया तूने, चले जाएँगे जहाँ से हम तू प्यार का सागर है घायल मन का पागल पंछी उड़ने को बेक़रार पंख हैं कोमल, आँख … Continue reading

1953 – Do Bigha Zameen – dharti kahe pukaar ke

Film Do Bigha Zameen Music Director Salil Chowdhury Year 1953 Singer(s) Lata, Manna, Chorus Audio Video On Screen Lyric (Devnagari) भाई रे गंगा और जमुना की गहरी है धार आगे या पीछे सबको जाना है पार धरती कहे पुकारके, बीज बिछा ले प्यार के मौसम बीता जाए, मौसम बीता जाए अपनी कहानी छोड़ जा, कुछ … Continue reading